Thursday , August 18 2022

सेंट्रल बार एसोसिएशन के पदाधिकारी निकले कोरोना पॉजिटिव, निचली अदालतें दो दिन के लिए बंद

-जांच में कोरोना पॉजिटिव पाये गये पदाधिकारी,  सम्‍पर्कियों की सूची मांगी गयी

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ की दीवानी कचहरी स्थित सेंट्रल बार एसोसिएशन के एक पदाधिकारी में कोविड-19 पॉजिटिव निकला है। इसके बाद यहां हड़कम्‍प मच गया है। रिपोर्ट आने के बाद  जनपद न्यायालय की सभी अदालतों को 48 घंटे यानी 30 जून एवं 1 जुलाई को बंद कर दिया गया है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) का इस आशय का पत्र मिलने के बाद जनपद न्यायाधीश ए के ओझा ने 48 घंटे कोर्ट परिसर को बंद कर सैनिटाइज कराने का आदेश दिया है। जनपद न्यायाधीश ने अपने आदेश में कहा है की अधीनस्थ न्यायालय में जनपद न्यायालय परिसर ,सेंट्रल बार एसोसिएशन परिसर, रोशनोद्दौला कोर्ट परिसर, पुरानी हाई कोर्ट बिल्डिंग, एवं अमेरिकन लाइब्रेरी स्थित परिसर व पारिवारिक न्यायालय परिसर यह सभी कोर्ट से बंद रहेंगी और 48 घंटे में इनको सैनिटाइज किया जाएगा। इसके साथ ही वकीलों के चेंबर भी सैनिटाइज होंगे।

सीएमओ ने पत्र में कहा है कि अधिवक्ता की जांच 27 जून को कोविड-19 के लिए की गई थी और 29 जून को उनकी जांच पॉजिटिव आई है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने इस संबंध में जनपद न्यायाधीश को पत्र लिखकर अधिवक्ता के संपर्क में आए हुए लोगों की सूची मांगी है। वहीं जनपद न्यायाधीश ने सेंट्रल बार एशोशियेशन को पत्र लिख कर अधिवक्ता के सम्पर्क में आये लोगों की सूची मांगी है।

सेंट्रल बार के महासचिव संजीव पाण्डेय ने कहा कि जनपद न्यायाधीश की कोर्ट में पूर्व एक ईडी का अभियुक्त आया था जो कोरोना पॉजीटिव था, अब बार के एक पदाधिकारी कोरोना पॉजीटिव हुए है जो केजीएमयू में भर्ती हैं। श्री पाण्डेय ने जनपद न्यायाधीश को पत्र लिख कर कहा कि एक पदाधिकारी कोरोना पोजटिव हुए हैं और परिसर में तमाम लोग आते हैं, ऐसी स्थिति में कोर्ट को बन्द कर परिसर को सेनेटाइज किया जाए।