देश की सबसे बड़ी अस्थमा संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने गये डॉ सूर्यकांत

विशेषज्ञ व वैज्ञानिक सदस्‍यों ने चुना निर्विरोध

लखनऊ। केजीएमयू के रेस्पिरेटरी विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ सूर्यकान्त एलर्जी अस्थमा से सम्बंधित सबसे बडी संस्था “इण्डियन कॉलेज ऑफ एलर्जी अस्थमा एण्ड एप्लाइड इम्यूनोलोजी” के राष्ट्रीय अध्यक्ष निर्वाचित हुए हैं।

ज्ञात रहे कि भारत के सभी एलर्जी एवं अस्थमा विषेषज्ञ, जैसे नाक, कान व गला रोग विशेषज्ञ, त्वचा रोग विशेषज्ञ एवं चेस्ट रोग विशेषज्ञ तथा इससे सम्बन्धित वैज्ञानिकों की इस राष्ट्रीय संस्था ने डॉ सूर्यकान्त को निर्विरोध रूप से अपना अध्यक्ष चुना है।

डॉ सूर्यकान्त पूर्व में इण्डियन चेस्ट सोसाइटी व इण्डियन साइंस कांग्रेस (विज्ञान प्रभाग) के राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुके हैं। इसके साथ ही हाल ही में डॉ सूर्यकान्त नेशनल कॉलेज ऑफ चेस्ट फिजीशियन (इण्डिया) के राष्ट्रीय अध्यक्ष निर्वाचित हुए हैं। इसके अतिरिक्त वर्तमान में टीबी एसोसिएशन ऑफ इण्डिया, इंडियन सोसाइटी फॉर स्टडी ऑफ लंग कैसर, राष्ट्रीय क्षय नियंत्रण कार्यक्रम, इण्डियन मेडिकल एसोसिएशन आदि संस्थाओं की प्रदेश एवं राष्ट्रीय कार्यकारणी के प्रमुख सदस्य हैं।

डॉ सूर्यकान्त ने अस्थमा एवं एलर्जी पर पुस्तकें भी लिखी हैं। उन्होनें एलर्जी व अस्थमा के क्षेत्र में कई शोध पत्र अंतरराष्ट्रीय एवं राष्ट्रीय पत्रिकाओं में प्रकाशित किये हैं तथा कई शोधार्थियों के गाइड रहे हैं। एलर्जी, अस्थमा व पर्यावरण के क्षेत्रों की कई फैलोशिप व सम्मान भी डॉ सूर्यकान्त को प्राप्त हो चुके हैं। डॉ सूर्यकान्त एलर्जी व अस्थमा से सम्बंधित कई स्वयंसेवी संस्थाओं के माध्यम से समाज में इन रोगों के प्रति जागरूक करने, निःशुल्क कैम्प लगाने व इलैक्ट्रॉनिक व प्रिंट मीडिया के माध्यम से चेतना फैलाने का कार्य कर रहे हैं।