Saturday , May 7 2022

डॉ आरके धीमन बने राष्‍ट्रीय चिकित्‍सा आयोग के स्‍नातकोत्‍तर चिकित्‍सा शिक्षा बोर्ड के सदस्‍य

-एनएमसी के तहत स्नातक चिकित्सा शिक्षा बोर्ड, स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा बोर्ड, चिकित्सा मूल्यांकन और रेटिंग बोर्ड तथा आचार और चिकित्सा पंजीकरण बोर्ड का गठन

नई दिल्ली/लखनऊ। संजय गांधी पीजीआई के निदेशक डॉ आरके धीमन को राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग (एनएमसी) के अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा गठित स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा बोर्ड का अंशकालिक सदस्य बनाया गया है उनका कार्यकाल 2 वर्ष का होगा। भारत सरकार ने इस संबंध में राजपत्र जारी किया है। इसके अनुसार स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग के अंतर्गत 4 बोर्ड्स का गठन किया गया है। जिन बोर्ड का गठन किया गया है उनमें स्नातक चिकित्सा शिक्षा बोर्ड, स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा बोर्ड, चिकित्सा मूल्यांकन और रेटिंग बोर्ड तथा आचार और चिकित्सा पंजीकरण बोर्ड शामिल हैं।

डॉ आरके धीमन

जारी अधिसूचना के अनुसार स्नातक चिकित्सा बोर्ड में अध्यक्ष  अहमदाबाद के जी आर दोषी और श्रीमती केएम मेहता इंस्टिट्यूट ऑफ़ किडनी डिजीज एंड रिसर्च सेंटर के रोग विज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष प्रोफेसर अरुणा वी वेनिकर को बनाया गया है। इसके अलावा एम्स पटना के डॉ विजेयेन्‍द्र कुमार को पूर्णकालिक सदस्य बनाया गया है पूर्णकालिक सदस्‍य एक पद रिक्त है, जबकि फोर्टिस अस्पताल मोहाली के डॉक्टर मुकुट मिनज एवं त्रिपुरा चिकित्सा परिषद के डॉ देवाशीष चक्रवर्ती को अंशकालिक सदस्य बनाया गया है।

इसी प्रकार स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा बोर्ड में बेंगलुरु मेडिकल कॉलेज और अनुसंधान संस्थान के डॉ एमके रमेश को अध्यक्ष, पुडुचेरी के इंदिरा गांधी सरकार सामान्य अस्पताल और स्नातकोत्तर संस्थान के डॉ विजय ओझा को पूर्णकालिक सदस्य बनाया गया है, पूर्णकालिक सदस्य का एक  पद रिक्त है। जबकि बोर्ड का अंशकालिक सदस्य संजय गांधी पीजीआई के निदेशक डॉ आरके धीमन एवं जम्मू और कश्मीर चिकित्सा परिषद के डॉक्टर सलीम उर रहमान को बनाया गया है।

इसके अतिरिक्त चिकित्सा मूल्यांकन और रेटिंग बोर्ड का अध्यक्ष डॉ बाबासाहेब अंबेडकर मेडिकल कॉलेज दिल्ली के डायरेक्टर डॉ अचल गुलाटी को बनाया गया है तथा असिविंग स्‍पेशियलिटी अस्पताल हैदराबाद के निदेशक डॉक्टर जी सूर्यनारायण राजू को पूर्णकालिक सदस्य एवं चिकित्सा शिक्षा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग तमिलनाडु के निदेशक डॉ आर नारायण बाबू और नागालैंड चिकित्सा परिषद के डॉ सेदेवी अंगामी को अंशकालिक सदस्य बनाया गया है,  इस बोर्ड में भी अंशकालिक सदस्य का एक पद खाली है।

इसके अतिरिक्त चौथे बोर्ड आचार और चिकित्सा पंजीकरण बोर्ड में एन आई एम एच ए एन एस (निम्‍हेन्‍स) बेंगलुरु के निदेशक डॉ बीएन गंगाधर को अध्यक्ष बनाया गया है तथा एम्स जोधपुर की डॉक्टर विजय लक्ष्मी नाग को पूर्णकालिक सदस्य बनाया गया है, जबकि सोनीपत के गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज फॉर विमेन के डॉक्टर योगेंद्र मलिक तथा मध्य प्रदेश शिक्षा परिषद के डॉ निशांत वरवडे को अंशकालिक सदस्य बनाया गया है।