सीसीआईएम के सदस्‍य पद के लिए डॉ आईएम तव्‍वाब ने किया नामांकन

कहा, सदस्‍य बनने पर यूनानी पैथी के डॉक्‍टरों व फार्मासिस्‍टों की उन्‍नति के लिए करूंगा कार्य

 

लखनऊ। केंद्रीय भारतीय चिकित्‍सा परिषद (सीसीआईएम) के सदस्‍य पद के लिए सोमवार को डॉ आईएम तव्वाब ने अपना नामांकन आयुर्वेद यूनानी तिब्बिया चिकित्सा पद्धति बोर्ड में दाखिल किया।

 

नामांकन दाखिल करने के उपरान्त डॉ तव्वाब ने कहा कि वह चिकित्साधिकारियों के मौलिक अधिकारों के लिए काफी समय से संघर्षरत हैं, अनेकों लड़ाइयां लड़ी हैं। उन्‍होंने कहा कि केंद्रीय भारतीय चिकित्‍सा परिषद का मेम्बर बनकर यूनानी विद्या एवं यूनानी पैथी के डॉक्टरों और फार्मासिस्टों की उन्नति के लिए कार्य करेंगे।

डॉ आईएम तव्वाब

उन्‍होंने कहा कि यूनानी चिकित्सकों के नवीन पदों को स्वीकृत संवर्ग का पुनर्गठन, लगभग 20वर्षों से रुकी फार्मासिस्टों की नियुक्ति एवं प्रत्येक चिकित्सक पर प्रत्येक फार्मासिस्ट की नियुक्ति आदि मांगों को पूरा कराने का प्रयास करेंगे। डॉ तव्‍वाब ने कहा कि इसके अलावा उत्तराखंड की तरह उत्तर प्रदेश में भी यूनानी फार्मासिस्ट को सीसीआईएम का सदस्य मनोनीत कराने का प्रयास किया जाएगा।

 

नामांकन के मौके पर उप्र राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के प्रदेश अध्यक्ष ठा0 मयंक प्रताप, आयुष फार्मासिस्ट के प्रदेश अध्यक्ष अम्मार जाफ़री, डॉ आरिफ इकबाल, डॉ नफीस, डॉ सफिया, डॉ अंसारी, डॉ आयेशा सिद्दीकी आदि उपस्थित थे।