Friday , October 22 2021

डेंगू लाइलाज नहीं, आयुर्वेद में बचाव व उपचार की दवायें उपलब्‍ध

आम जन तक जागरूकता पहुंचाने के लिए सभी विभागों के अधिकारियों को किया जा रहा जागरूक

 

लखनऊ। डेंगू लाइलाज नहीं है, आयुर्वेद पद्धति में इससे बचाव के साथ ही इसका इलाज भी उपलब्‍ध है। यह बात बहराइच कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित कार्यक्रम में चिकित्‍साधिकारी आयुर्वेद विशेषज्ञ डॉ देवेश कुमार श्रीवास्‍तव ने दी। ज्ञात हो आजकल डेंगू का हमला जारी है। ऐसे में जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव की अध्‍यक्षता में बुलायी गयी जिले के अनेक विभागों के अधिकारियों की बैठक में मौजूद लोगों को आयुर्वेद चिकित्‍सा का महत्‍व बताते हुए डेंगू पर महत्‍वपूर्ण्‍ जानकारी दी। इन अधिकारियों को इसकी जानकारी देने का उद्देश्‍य आम जनता के बीच डेंगू को लेकर जागरूकता फैलाना है।

डॉ देवेश कुमार श्रीवास्तव ने “डेंगू लाइलाज नही आयुर्वेद से बचाव व इलाज संभव” का संदेश व जानकारी वहाँ उपस्थित पूरे जिले के सभी विभागों के अधिकारियों  को दी। जिससे सभी ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों  में प्रचार प्रसार हो सके और लोग समय रहते हुए बचाव कर सकें। और यदि डेंगू की चपेट में आ भी जाएँ तो बिना घबराये आयुर्वेदिक इलाज के द्वारा पूर्ण स्वस्थ हो सकते हैं। इस अवसर पर बोलते हुए कहा कि  आयुर्वेद ही एक ऐसी चिकित्सा पद्धति है जो कि शरीर के  समस्त दोषों को दूर कर रोग को जड़ से समाप्त  करती है।

आपको बता दें कि डॉ देवेश कुमार श्रीवास्तव, सेक्टर मजिस्ट्रेट कैसरगंज पूरे बहराईच को पूर्ण रूप से स्वस्थ बनाये रखने के उद्देश्य से गांव-गांव में साफ सफाई, वृद्धावस्था, विकलांग पेंशन, शौचालय, आंगन बाड़ी,  स्कूल, सड़क रोड सभी को बिजली आदि की व्यवस्था के साथ स्वस्थ कैसे बने रहे यह संदेश जिले के समस्त विभागों के अधिकारियों को देने के साथ योग प्राणायाम आयुर्वेदिक दिनचर्या आसपास उपलब्ध जड़ीबूटियो, कीचेन मसालों आदि से कैसे स्वस्थ बने रहे इसकी महत्वपूर्ण जानकारी दी लोगों के पास पहुंच कर दे रहे हैं।