9 दिसम्‍बर के बाद से यूके से आये लोगों की कोविड जांच अनिवार्य : योगी आदित्‍यनाथ

-भीड़भाड़ वाले इलाकों में जाने से बचने की सलाह

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा है कि कोरोना वायरस के नए स्वरूप के दृष्टिगत पूरी सावधानी व सतर्कता बरती जाए। यू0के0 में वायरस के नए स्वरूप से मिलने पर यू0के0 से 9 दिसम्बर, 2020 के बाद प्रदेश में आए लोगों की अनिवार्य रूप से आर0टी0पी0सी0आर0 विधि से टेस्टिंग की जायेगी तथा कोविड प्रोटोकॉल का भी पालन कराया जायेगा।

यह जानकारी अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने लोक भवन में प्रेस प्रतिनिधियों को देते हुए बताया कि प्रदेश सरकार कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए योजनाबद्ध तरीके से कार्य कर रही है। प्रदेश में कोरोना में कमी आ रही है फिर भी सभी को सावधानी बरतने की आवश्यकता है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि भीड़भाड़ वाले इलाकों में जाने से बचें।

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में कल एक दिन में कुल 1,39,637 सैम्पल की जांच की गयी। प्रदेश में अब तक कुल 2,28,32,382 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना से संक्रमित 1,233 नये मामले आये हैं। प्रदेश में 16,378 कोरोना के एक्टिव मामले में से 7,215 लोग होम आइसोलेशन में हैं। उन्होंने बताया कि अब तक कुल 5,53,019 लोग कोविड-19 से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। प्रदेश में कोविड-19 का रिकवरी प्रतिशत 95.74 है। उन्होंने बताया कि वायरस के नये स्वरूप सामने आने पर भारत सरकार ने यूनाइटेड किंगडम के बीच की उड़ानें स्थगित कर दी हैं। यूनाइटेड किंगडम से आने वाले लोग अपनी जांच अवश्य करायें। इसके अलावा सभी लोग मास्क पहनें, हाथ साबुन-पानी से धोते रहें तथा लोगों से दो गज की दूरी बनाये रखें। जब तक वैक्सीन नहीं आती तब तक पहले से बीमार बुजुर्गों, बच्चों, गर्भवती महिलाओं को संक्रमण से बचाना होगा।