रोहतास पास में 13050 फीट की ऊंचाई पर गूंजी किलकारी

 

मनाली से 51 किलोमीटर दूर 108 एंबुलेंस में करवाई गई महिला की डिलीवरी

 

ज़मीन से 13050  फीट की ऊंचाई, आसपास बर्फ से ढंके पहाड़ और ऑक्सीजन की कमी. इसके बावजूद आधी रात को वहां किलकारी गूंजी. चौंक गए न, लेकिन यह सच है. हिमाचल के मनाली में स्थित रोहतांग पास पर आधी रात को एक गर्भवती महिला ने बेटे को जन्म दिया. जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ हैं.

 

खबर है कि मनाली से 51 किलोमीटर दूर 3500 मीटर की ऊंचाई पर 108 एंबुलेंस में महिला की डिलीवरी करवाई गई. जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ हैं. इससे पहले भी एक बार भारी बर्फभारी के बीच यहां पर महिला की डिलीवरी करवाई गई थी. यह दूसरा मामला सामने आया है.

 

जानकारी के अनुसार, मनाली से 160 किलोमीटर की दूर केलांग के उदयपुर अस्पताल से अनीता देवी (26)  गांव रतौली उदयपुर को वीरवार के देर शाम प्रसव पीड़ा चलते कुल्लू रेफर किया गया.

 

मनाली से 51 किमी. दूर रोहतांग पास से गुजरते वक्त महिला की प्रसव पीड़ा बढ़ गई. उसकी हालत बिगड़ते देख 108 एंबुलेंस में तैनात इमरजेंसी मेडिकल टेक्नीशियन मान चंद और बीर सिंह ने महिला की वहीं पर डिलीवरी करवाने का फैसला किया.
इसके बाद आधी रात को 11 बजकर 50 मिनट पर रोहतांग टॉप पर उन्होंने महिला की डिलीवरी करवा दी. 26 साल की अनीता ने बेटे को जन्म दिया. इसके बाद अनीता देवी को सुबह 3:30 बजे क्षेत्रीय अस्पताल कुल्लू पहुंचाया गया. दोनों जच्चा-बच्चा सुरक्षित है. फिलहाल दोनों डॉक्टरों की निगरानी में कुल्लू अस्पताल में भर्ती हैं.

 

ज्ञात हो मनाली लेह मार्ग पर रोहतांग पास में हाई एल्टीट्यूड होने की वजह से ऑक्सीजन की भारी कमी रहती है. मौजूदा समय यहां मौसम भी काफी ठंडा होता है. ऐसे में टॉप पर डिलीवरी करवाना किसी चुनौती से कम नहीं है. महिला के परिजनों ने एंबुलेंस स्टाफ का आभार जताया है.