शादी से पहले कराना चाहिये लड़का-लड़की का एचआईवी टेस्‍ट

-विश्‍व एड्स दिवस पर डॉ नौसरान की मेरठ से नयी दिल्‍ली साइकिल यात्रा

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। अक्‍सर अपनी साइकिल यात्राओं से विभिन्‍न प्रकार की जागरूकता फैलाने वाले मेरठ में रहने वाले मेरठ आईएमए के पदाधिकारी व पैथोलॉजिस्‍ट डॉ अनिल नौसरान विश्‍व एड्स दिवस पर भी एचआईवी/एड्स से बचाव को लेकर लोगों को जागरूक करने के लिए मेरठ से नयी दिल्‍ली की यात्रा पर निकल रहे हैं। इनका कहना है कि चूंकि 99 प्रतिशत मामलों में यह पाया गया है कि एड्स असुरक्षित यौन संबंधों से होता है, ऐसी स्थिति में अब लोगों को चाहिये कि वे शादी से पहले लड़के और लड़की की मेडिकल कुंडली बनवायें और एचआईवी टेस्‍ट करायें।

डॉ नौसरान ने बताया कि वे विश्व एड्स दिवस के उपलक्ष्‍य में 30 नवम्‍बर और 1 दिसंबर की मध्‍य रात्रि के बाद सुबह 2 बजे घंटाघर मेरठ से इंडिया गेट न्यू दिल्ली के लिए साइकिल यात्रा शुरू करेंगे। उन्‍होंने बताया कि इसके बाद इंडिया गेट से मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज के लिए प्रस्थान करूंगा।

उन्‍होंने बताया कि इसका मुख्य उद्देश्य लोगों को एड्स के प्रति जागरूक करना है क्योंकि आज तक एड्स का कोई कारगर उपचार उपलब्ध नहीं है।  99% केसेस में एड्स सेक्स के द्वारा फैलता है। उन्‍होंने बताया कि ऐसे में इसका सिर्फ एक ही उपाय है। वह है बचाव, बचाव, बचाव।

उन्‍होंने कहा कि मेरी लोगों को सलाह है कि शादी से पहले मेडिकल कुंडली बनवाएं। लड़के लड़की का एचआईवी टेस्ट कराएं। असाध्य रोग से मुक्ति पाएं।