Tuesday , August 16 2022

15 अगस्‍त याद दिलाता है कि राष्‍ट्र सर्वोपरि व सर्वप्रथम : प्रो आरके धीमन

-संजय गांधी पीजीआई में हर्षोल्‍लास के साथ मनाया गया स्‍वाधीनता दिवस

-मरीजों और कर्मियों के हितों के लिए किये गये कार्यों को गिनाया निदेशक ने

सेहत टाइम्‍स

लखनऊ। संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान में देश का 76वां स्वतंत्रता दिवस पूरे उत्साह और उमंग के साथ मनाया गया। संस्थान परिवार के मुखिया प्रो राधाकृष्ण धीमन ने परंपरागत तरीके से ध्वजारोहण किया। राष्ट्रगान के पश्चात उपस्थित संकाय सदस्यों और कर्मचारियों को  स्वाधीनता दिवस की बधाई देते हुए उन्होंने कहा कि यह दिन हमें सदैव याद दिलाता है कि राष्ट्र सर्वोपरि व सर्वप्रथम है। हमारा हर कार्य राष्ट्रहित और राष्ट्र की उन्नति के तरफ होना चाहिए।

उन्‍होंने कहा कि यह दिवस हमें संस्थान की 1 साल में  हुई प्रगति को याद करने और आगे आने वाले विकास कार्यों को भी बताने का अवसर प्रदान करता है। उन्होंने कोरोना-19 की तीनों लहरों से लड़ते हुए भी संस्थान मे अनेक नये प्रोजेक्ट को पूर्ण करने के लिए  संस्थान परिवार के हर सदस्य के योगदान की प्रशंसा की और और उन्हें हृदय से धन्यवाद दिया। 

निदेशक ने पिछले एक वर्ष की उपलब्धियों का लेखा-जोखा प्रस्तुत किया, जिसमें रोगी सेवा, शोध और शिक्षण तीनों स्तंभों पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि सबसे बड़ी उपलब्धि मेडिकल, पैरामेडिकल, ट्यूटर इत्यादि कैडर में नई भर्तियों के लिए नियुक्तियों की प्रक्रिया शुरू करने का कार्य था, जो सफलता पूर्ण किया जा रहा है। नर्सिंग और कर्मचारी महासंघ की उन मांगों को भी पूरा करने का प्रयास किया गया है, जिसमें वर्दी भत्ता व द्विभाषी भत्ता शामिल है। संवर्ग पुनर्गठन में भी कई प्रयासों के बाद सफलता मिली है और संवर्ग पुनर्गठन भी शीघ्र ही किया जाएगा।

उन्होने संस्थान की एक और बड़ी पहल का उल्लेख किया और बताया कि 1 सितंबर 2021 से फाइलों के त्वरित निस्तारण और उनके उचित प्रबंधन के लिए ई ऑफिस द्वारा कार्य किया जा रहा है। टेलीमेडिसिन संस्‍थान के द्वारा शुरू किए गए टेली आईसीयू प्रोजेक्‍ट द्वारा उत्तर प्रदेश राज्य के पुराने छह मेडिकल कॉलेज आगरा, झांसी, कानपुर, गोरखपुर, मेरठ और प्रयागराज को हब और स्पोक माडल के आधार पर आईसीयू केयर के लिए टेलिमेडिसिन के द्वारा पी जी आई से जोड़ा जाएगा।

निदेशक ने यूरोलाजी, पीडियाट्रिक सर्जरी, कार्डियक सर्जरी एन्डोसर्जरी विभागों में सफलतापूर्वक होने वाली रोबोटिक सर्जरी का भी जिक्र किया। उन्होंने एडवांस डायबिटिक सेंटर की कार्य प्रगति का भी उल्लेख किया।

इस अवसर पर संस्थान के कार्यपालक कुलसचिव लेफ्टिनेंट कर्नल वरुण बाजपेयी ने भी उपस्थितं जनसमुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि हम अपनी क्षमता के अनुसार पूरी मेहनत से कार्य करें। काम करने से कोई बीमार नहीं पड़ता, अपितु आलस्य से बीमार पड़ता है। उन्‍होंने कहा कि रोगियों में संस्थान के प्रति निष्ठा और विश्वास को न केवल हमें पुष्ट करना है, बल्कि उसे बढ़ाना भी है।

इस अवसर पर संस्थान के कर्मठ सदस्यों को निदेशक द्वारा सम्मानित किया गया। संस्थान के नर्सिंग कॉलेज द्वारा आयोजित कोलाज प्रतियोगिता के विजेताओं को भी इस अवसर पर पुरस्कृत किया गया। साथ ही स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य पर आयोजित निबंध प्रतियोगिता व स्लोगन प्रतियोगिता के विजेताओं को भी इस अवसर पर सम्मानित किया गया।

अंत में निदेशक इलेवन व टीम इलेवन के बीच एक क्रिकेट मैच का आयोजन किया गया, जिसमें निदेशक 11 टीम विजेता रही। इस अवसर पर संस्थान के कार्यकारी मुख्य चिकित्सा अधीक्षक प्रो नारायण प्रसाद, चिकित्सा अधीक्षक प्रो वी के पालीवाल, संस्थान के संयुक्त निदेशक (प्रशासन) प्रो रजनीश कुमार सिंह व अन्य संकाय सदस्य भी उपस्थित थे। इस कार्यक्रम में सामाजिक दूरी बनाए रखकर बडी संख्या में  लोगों ने भाग लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

5 × 3 =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.