मेडिकल साइंस की बेहतरी के लिए 20 लोगों ने फॉर्म भरकर किया देहदान

-लोहिया संस्‍थान में आयोजित हुआ देहदान जागरूकता कार्यक्रम, चार परिवारों को सम्‍मानित भी किया

 सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। डॉ राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान, लखनऊ के एनाटॉमी विभाग द्वारा महर्षि दधीचि देहदान शपथ एवं सम्मान समारोह का आयोजन युग दधीचि संस्थान, कानपुर, के संयुक्त तत्वावधान में सोमवार को एकेडमिक ब्लॉक में किया जा गया। इस कार्यक्रम में प्रेरित होकर 20 लोगों ने देहदान के लिए शपथ पत्र भरे।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि संस्‍थान के निदेशक प्रो एके त्रिपाठी थे एवं कार्यक्रम की अध्यक्षता एक्जिक्यूटिव रजिस्ट्रार एवं विभागाध्यक्ष एनाटॉमी प्रो0 राजन भटनागर द्वारा की गई। विभाग की एसोसिएट प्रोफेसर डा0 नवबीर पसरीचा कार्यक्रम की आयोजक सचिव रहीं।

डीन प्रो0 नुजहत हुसैन, युग दधीचि देहदान संस्था के संस्थापक मनोज सेंगर,  मालवीय मिशन के संजीव एवं लायन्स क्लब के मनोज रूहेला कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहे।

मनोज सेंगर ने युग दधीचि देहदान संस्‍था द्वारा संचालित कार्यक्रमों के बारें में बताया एवं देहदान के महत्व पर प्रकाश डाला साथ ही कार्यक्रम में उपस्थित श्रोताओं को देहदान की शपथ दिलायी गयी।

प्रवक्‍ता डॉ विक्रम सिंह ने बताया कि संस्थान में 2017 से एनाटॉमी विभाग की शुरुआत हुयी जिसमें अबतक चार देहदान किये जा चुके हैं। इस कार्यक्रम में उनके परिवार के सदस्यों को इस महादान के लिए सम्मानित किया गया।

उन्‍होंने बताया कि एमबीबीएस प्रथम वर्ष के छात्र/छात्राओं के लिए पोस्टर प्रतियोगिता आयोजित की गयी जिसका शीर्षक ‘देहदान महादान’ था, जिसमें प्रथम स्थान पर अजीत कुमार पाण्डेय, द्वितीय स्थान पर उत्कर्ष सिंह, तृतीय स्थान पर स्वप्निल रहीं।

डॉ विक्रम सिंह ने बताया कि कार्यक्रम का उद्देश्य समाज में देहदान के प्रति जागरूकता का विस्तार करना था। उन्‍होंने बताया कि मेडिकल साइंस के कल्याण और कुशलता व बेहतरी के लिए स्वैच्छिक देहदान एक आशा की किरण है।