हृदय रोगों में कारगर होम्योपैथी

होम्योपैथिक उपचार विभिन्न हृदय रोगों में कारगर हैं। यह रोगसूचक हृदय रोग, उच्च रक्तचाप, हाइपरकैलोस्ट्रोलेमिया और हृदय अरहायथिमियास से तीव्रता से राहत दे सकता है। यह सुरक्षित है, प्राकृतिक, प्रभावी उत्पादों और प्रक्रिया, के साथ लगभग कोई दुष्प्रभावों से रहित है, और लत की कोई संभावना नही है।

हृदय रोगों के लिए होम्योपैथिक चिकित्सा

होम्योपैथी हृदय रोगों की रोकथाम और दिल के दौरे के बाद रोग के रोगियों के प्रबंधन में मुख्य है। होम्योपैथिक दवाएं नियंत्रण और दिल के दौरे के विभिन्न कारणों जैसे कोलेस्ट्रॉल मे वृद्धि, उच्च रक्तचाप को रोकता है। गंभीर दिल का दौरा के मामले में एक रोगी के प्रबंधन में इसका कोई कार्य नहीं है।

उच्च कोलेस्ट्रॉल के लिए उपचार

  • उच्च कोलेस्ट्रॉल उपचार कर अठेरोस्क्लेरोसिस को नियंत्रित कर सकता है जो धमनियों के अवरोधन में दिल और दिल के दौरे के कारण होता हैं। होम्‍योपैथिक की कुछ दवाएं जैसे सुम्बुल, स्ट्रोफान्थुस, स्ट्रोंटियम कार्ब (Sumbul , Strophanthus , Strontium Carb) रक्त कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए प्रभावी रहे हैं। कुछ होम्योपैथिक उपचार के लिए हृदय वाहिकाओं मे कोलेस्ट्रॉल के संचय को कम करने के लिए जाना जाता है। इनमे क्रेटाएगूस, ऑरम मेट, बेराइटा कार्ब, केलकेरिया कार्ब (Crataegus,Aurum Met., Baryta Carb., Calcarea Carb) शामिल हैं।
  • होम्योपैथिक उपचार आहार संशोधन और नियंत्रण के साथ जुङा है, और शारीरिक व्यायाम भी किया जाना चाहिए। उपचार में कोई परिवर्तन प्रायः रक्त कोलेस्ट्रॉल के परीक्षण के बाद किया जाता है। इलाज की प्रतिक्रिया के आधार पर उपचार आमतौर पर धीरे-धीरे कम होता जाता है। अक्सर दवा का चयन लक्षणों और वैयक्तिक आधार पर होता है। उच्च रक्तचाप के उपचार रोगियो में उच्च रक्तचाप का उपचार रोगी दोनों मे से कौन सा एलोपैथी उपचार कर रहा है या नहीं, के आधार पर चयनित है। उच्च रक्तचाप के उपचार के लिए कुछ दवाओं में Aurum met., Belladonna, Calcarea Carb., Glonoine, Lachesis, Nat.Mur., Nux Vom., Phos., और Plb.Met शामिल हैं।
  • रोगियों जो एलोपैथिक दवाओं का इस्तेमाल करते है जैसे बीटा ब्लॉकर्स कैल्शियम, चान्नी ब्लॉकर्स, एसीई इनहेबीटर लम्बी अवधि के लिए होम्योपैथिक उपचार के साथ उच्च रक्तचाप के नियंत्रण के लिए आमतौर पर मुश्किल है। रोगियो में जो एलोपैथिक दवाएं उच्च रक्तचाप के उपचार के लिए कुछ दवाओं दिल के लिए (जैसे रोवोलिया, एलियम, सेटिवम, पेसिफ्लोरा, एड्रेनालिन, बेलाडोना, ग्‍लोनोइन, जेलसीमियम आदि) भी दी जाती है।
  • उच्च रक्तचाप के लिए दी गई दवाओं के अलावा आपका चिकित्सक आमतौर पर यदि आप मोटे है तो वजन कम करने की सलाह देगा, एक कम कैलोरी युक्त आहार, व्यायाम और सिगरेट धूम्रपान, मानसिक तनाव का परिहार करे।

होम्योपैथिक उपचार के साथ सावधानी

यदि आप उच्च रक्तचाप के लिए नियमित रूप से होम्योपैथी उपचार कर रहे है, या उच्च कोलेस्ट्रॉल होने पर आप अपने होम्‍योपैथ चिकित्सक के साथ नियमित रूप से उपचार का पालन करने की आवश्यकता होगी। यदि आप एलोपैथिक दवाएं लेने के साथ होम्योपैथिक उपचार कर रहे है तो इस बारे में अपने दोनों चिकित्सको को सूचित करे। अपने चिकित्सक के परामर्श के बिना एलोपैथिक दवाओं को लेना बंद या उनके साथ समायोजन मत करो। होम्योपैथिक दवाओं के साथ तीव्र दिल के दौरे के उपचार स्वीकार्य नहीं है। यदि आपको दिल का दौरा है तो आपको एलोपैथिक दवाओं के साथ इलाज की जरूरत है।

रोगियों में होम्योपैथिक दवाओं के साथ संभावित उपचारात्मक समाधान प्रस्तुत है, दुर्लभ या कोई दुष्प्रभाव नही, लत की संभावना नही और शायद ही कभी नकारात्मक दवा पारस्परिक क्रियाएं हो। इन उपायों से आपके संपूर्ण शरीर को लाभ होगा और आप उत्तम स्वस्थ को प्राप्त करेंगे और प्रायः एलोपैथिक दवाओं की आवश्यकता कम होगी।