Friday , July 1 2022

केजीएमयू में येलो फीवर वैक्‍सीनेशन फि‍र शुरू

-अनुपलब्‍धता के चलते पिछले दिनों बंद हो गया था कार्य

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी में पुन: येलो फीवर वैक्सीनेशन लगना शुरू हो गया है। यह जानकारी देते हुए केजीएमयू के कुलसचिव आशुतोष कुमार द्विवेदी ने कहा है कि पूर्व की भांति प्रोफेसर जमाल मसूद की देखरेख में येलो फीवर वैक्सीनेशन केजीएमयू के कम्युनिटी मेडिसिन विभाग में प्रत्येक सप्ताह के सोमवार, गुरुवार एवं शनिवार को लगेगा। ज्ञात हो पिछले दिनों वैक्‍सीनेशन की उपलब्‍धता न होने के कारण वैक्‍सीनेशन का कार्य रुक गया था।

कुलसचिव द्वारा बताया गया है कि वैक्‍सीनेशन लगवाने के लिए निर्धारित दिनों पर प्रातः 9:00 से 10:00 के बीच में पंजीकरण करवाना होगा तथा उसके बाद प्रातः 10:00 बजे से अपराहन 1:00 बजे तक वैक्सीनेशन लगाने का कार्य होगा। उन्होंने कहा है वैक्सीनेशन लगवाने के मद में 350 रुपये प्रति व्‍यक्ति चार्ज पड़ेंगे, इनमें 50 रुपये केजीएमयू के तथा बाकी 300 रुपये भारत सरकार के खाते में जायेंगे।

उन्होंने बताया कि‍ वैक्सीनेशन होने के बाद 2 घंटे कम्युनिटी मेडिसिन विभाग में ही रुकना होगा ताकि यदि वैक्सीनेशन से कोई दिक्कत होती है तो उसका चिकित्सकों द्वारा उपचार किया जा सके। कुलसचिव ने कहा है कि वैक्‍सीनेशन के लिए पासपोट की मूल प्रति लाना अनिवार्य है, तभी इंजेक्‍शन लग सकेगा।

आपको बता दें कि कुछ देशों में जाने से पहले येलो फीवर टीकाकरण कराना अनिवार्य होता है, इसका कारण इन देशों में येलो फीवर के संक्रमण का बहुतायत में होना है। इन देशों में अफ्रीका, साउथ अमेरिका शामिल हैं। येलो फीवर मच्छर की एक विशेष प्रजाति द्वारा फैलता है। यह ऐसा रोग है जो पूरे शरीर को प्रभावित करता है।