विश्‍व का सबसे सूक्ष्‍म रोबोटिक सर्जरी सिस्‍टम लगेगा केजीएमयू में

केजीएमयू में रोबोटिक सर्जरी की सुविधा की जरूरत बतायी विदेश के विशेषज्ञों ने

रोबोट निर्माता डॉ मार्क लैक और डॉ स्‍टीव ने किया संस्‍थान का दौरा

 

लखनऊ। किंग जॉर्ज चिकित्‍सा विश्‍व विद्यालय में निकट भविष्‍य में विश्‍व का सबसे सूक्ष्‍म रोबोटिक सिस्‍टम versius स्‍थापित किया जायेगा। यह सिस्‍टम गैस्‍ट्रोसर्जरी विभाग में लगाया जायेगा लेकिन इस रोबोटिक सिस्‍टम का उपयोग यूरोलॉजी विभाग और स्‍त्री रोग एवं प्रसूति विभाग भी कर सकेगा। इस रोबोटिक सिस्‍टम से हार्निया रिपेयर, कोलोरेक्‍टल ऑपरेशन, प्रोस्‍टेट एवं प्रसूति रोगों से सम्‍बन्धित सर्जरी में किया जा सकेगा। आज रोबोटिक सर्जरी सिस्‍टम की स्‍थापना एवं अति विशिष्‍ट केंद्र की स्‍थापना को लेकर रोबोट बनाने वाले विशेषज्ञों ने भ्रमण कर यहां दी जा रही सुविधाओं का जायजा लिया।

 

गुरुवार को कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी यूके के रोबोट निर्माता डॉ.मार्क लैक और डॉ.स्टीव ने केजीएमयू का दौरा किया। कुलपति प्रो एमएलबी भट्ट ने भी इसकी जरूरत पर सहमति जतायी। उम्‍मीद की जा रही है कि शासन से अनुमति लेने के बाद इस दिशा में कार्य शुरू किया जा सकता है। डॉ.मार्क लैक और डॉ.स्टीव ने कहा कि केजीएमयू में आईसीयू, आधुनिक तकनीक के इलाज से युक्त गेस्ट्रो सर्जरी विभाग आदि पर्याप्त संसाधन हैं, यहां पर रोबोटिक सर्जरी की शुरूआत करना एक जरूरत है। रोबोटिक सर्जरी के लिए यहां पर प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू होना चाहिये ताकि आस पास के क्षेत्र के सर्जन्स को नई तकनीक से रूबरू कराया जा सके।

 

रोबोट सर्जरी तकनीक के फाउंडर डॉ.मार्क स्‍लैक एवं डॉ.स्टीव ने, केजीएमयू में रोबोट सर्जरी की संभावनाओं को तलाशने के लिए केजीएमयू पहुंचे, यहां पर उन्होंने रोबोट सर्जरी विषयक कार्यशाला को संबोधित किया, साथ ही केजीएमयू के एनाटमी, शताब्दी अस्पताल समेत विभिन्न यूनिटों का निरीक्षण किया। डॉ मार्क स्‍लैक ने इवोल्‍यूशन ऑफ रोबोटिक सर्जरी पर लेक्‍चर भी दिया। दोनों विशेषज्ञों ने केजीएमयू में रोबोट सर्जरी का उज्‍ज्‍वल भविष्य बताते हुए कहा कि यहां पर रोबोट सर्जरी तकनीक पर प्रशिक्षण कार्यक्रम समय-समय पर आयोजित होना चाहिये ताकि बेहतर चिकित्सा उपलब्ध कराने के लिए सर्जन्स को अपडेट किया जा सके। इस अवसर पर रोबोट सर्जरी के इंडिया हेड समेत केजीएमयू में गेस्ट्रोसर्जरी विभागाध्यक्ष प्रो.अभिजीत चंद्रा व अन्‍य चिकित्‍सक भी उपस्थित थे।