फाइलेरिया से बचाव की दवा खाकर महानिदेशक बोले, आप भी खायें

-दो साल से कम आयु के बच्चों, गर्भवती महिलाओं और गंभीर बीमारों को नहीं खानी है दवा

 

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ उत्‍तर प्रदेश के चिकित्‍सा एवं स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के महानिदेशक डॉ ज्ञान प्रकाश को गुरुवार को स्‍वास्‍थ्‍य शिक्षा अधिकारी मनोरमा एवं उनकी टीम ने फाइलेरिया से बचने की दवा खिलायी, महानिदेशक ने दवा खाने के बाद सभी प्रदेशवासियों से इसे खाने की अपील की है। हालांकि आपको बता दें कि यह दवा 2 साल से कम आयु के बच्चों, गर्भवती महिलाओं और गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लोगों को नहीं खानी है।

ज्ञात हो राष्ट्रीय फाइलेरिया उन्मूलन अभियान की शुरुआत 16 फरवरी को हुई थी।  इसके तहत जिले में लोगों को फाइलेरिया की दवा खिलाई जा रही है। इसी क्रम में डॉ ज्ञान प्रकाश को आज दवा खिलायी गयी।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. नरेन्द्र अग्रवाल ने बताया इस अभियान में इससे पहले स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जय प्रताप सिंह, मेयर संयुक्ता भाटिया,  जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश तथा मुख्य विकास अधिकारी मनीष बंसल ने स्वयं भी फ़ाइलेरिया की दवा खाकर लोगों से इस दवा को खाने की अपील की है |

डा. नरेन्द्र अग्रवाल द्वारा बताया गया– अभी तक इस अभियान के तहत अब तक लगभग 7,50,000 लोग दवा का सेवन कर चुके हैं। इस अभियान में लगभग 3914 टीमें व 785 सुपरवाईजर लगे हैं जो घर –घर जाकर लोगों को दवा खिला रहे हैं।  साथ ही वह लोगों को फाइलेरिया से बचाव के उपाय भी बता रहे हैं।  मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि यह अभियान 29 फरवरी तक चलेगा।