Saturday , August 20 2022

खांसी-जुकाम-बुखार के मरीजों के लिए रजिस्‍ट्रेशन से लेकर डॉक्‍टर तक की पृथक व्‍यवस्‍था, फीवर क्‍लीनिक बनाया

-लोहिया संस्‍थान पहुंचे चिकित्‍सा शिक्षा मंत्री ने लिया आइसोलेशन वार्ड का भी जायजा

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। गोमती नगर स्थित डॉ राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में 17 मार्च मंगलवार से खांसी, जुकाम, बुखार से पीड़ित लोगों के लिए एक अलग से फीवर क्लीनिक बनाया गया है, यहां पर दिखाने के लिए रजिस्ट्रेशन काउंटर भी अलग से बनाया गया है जिससे कि इन्हें अन्य लोगों की भीड़ में शामिल नहीं होना पड़ेगा तथा इससे संक्रमण होने का खतरा कम होगा।

यह जानकारी संस्थान के मीडिया प्रवक्ता डॉ विक्रम सिंह ने देते हुए बताया है कि इमरजेंसी के बगल में खुली इस विशेष क्लीनिक का आज उत्‍तर प्रदेश के चिकित्‍सा शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने निरीक्षण भी किया तथा संतोष जताया। उन्होंने बताया कि इस क्लीनिक में डॉक्टर द्वारा फीवर का परीक्षण किया जाएगा एवं उनके द्वारा मरीजों में कोरोना वायरस के प्रति भय एवं भ्रांतियों का निराकरण भी किया जाएगा और यदि जरूरत पड़ी तो उन्हें अलग से भर्ती कर कोरोना की जांच की जाएगी।

उन्‍होंने बताया कि संस्थान पहुंचे चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने यहां बनाए गए 10 बेड के आइसोलेशन वार्ड का भी निरीक्षण किया तथा वहां भर्ती 25 वर्षीय कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीज से भी उसके बारे में जानकारी ली। इस आइसोलेशन वार्ड में दो मॉनिटर एवं दो वेंटिलेटर रखे गए हैं मंत्री के साथ निरीक्षण के समय संस्थान के निदेशक प्रोफ़ेसर ए के त्रिपाठी सहित संस्‍थान के अन्‍य अधिकारी भी उपस्थित थे।