Friday , November 12 2021

गायत्री ज्ञान मंदिर में 24 से प्रारम्भ होगा सामूहिक पिण्ड तर्पण

नर-नारी, जाति-वंश का भेद नहीं, सभी कर सकते हैं भागीदारी       

Demo Photo

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के इन्दिरा नगर सेक्टर-9 स्थित गायत्री ज्ञान मंदिर में प्रतिवर्ष की भॉंति पितृपक्ष के अवसर पर 24 सितम्बर से सामूहिक पिण्ड तर्पण प्रारम्भ होगा तथा 9 अक्टूबर तक प्रतिदिन चलेगा। पूर्णिमा का तर्पण 24 सितम्‍बर को प्रातः 6 बजकर 50 मिनट से शुरू होगा। अगले दिन 25 सितम्बर से 9 अक्टूबर तक चलने वाला तर्पण प्रातः साढ़े पांच बजे से नियमित चलेगा।

 

कार्यक्रम के मुख्य संयोजक उमानंद शर्मा ने बताया किया प्रातः साढे पांच बजे से देव आह्वान, देवपूजन के उपरान्त तर्पण प्रारम्भ होगा, उसके उपरान्त पिण्ड दान होगा तदोपरान्त गायत्री यज्ञ होगा। श्री शर्मा ने बताया कि पिण्ड तर्पण में नर-नारीँ जातिवंश का भेद नहीं होगा सभी भागीदारी कर सकते हैं। कार्यक्रम भाग लेने के लिए एक दिन पूर्व पंजीयन करना अनिवार्य होगा।

 

तर्पण के सभागार में युग ऋषि द्वारा रचित धर्म एवं अध्यात्म, वैज्ञानिक विश्लेषण के साथ जीवन मृत्यु पर आधारित साहित्य जैसे- मैं क्या हूँ?, गहना कर्मक्षेत्र गति,  मरने के बाद हमारा क्या होता है, पितरों को श्रद्धा दें वे शक्ति देंगे, पितर हमारे अदृश्य सहायक, मरणोत्तर जीवन उसकी सच्चाई, जीवन एवं मृत्यु, भूत कैसे होते हैं क्या करते हैं?, स्वर्ग-नर्क की स्वचालित प्रक्रिया, मरे तो सही बुद्धिमता के साथ, जल्दी मरने की उतावली न करें जैसी पुस्‍तकें सभागार में अवलोकन हेतु प्रदर्शित रहेंगी क्रय करके लिया भी जा सकता है।