मूट कोर्ट प्रतियोगिता सिखाती है कोर्ट का अनुशासन व नियम

न्‍यायमूर्ति विष्‍णु सहाय ने किया यूनिटी पीजी एंड लॉ कॉलेज में छठी राष्ट्रीय मूर्टकोर्ट प्रतियोगिता का उद्घाटन

लखनऊ। विधि के विद्यार्थियों को मूट कोर्ट प्रतियोगिता में भाग लेते रहना चाहिये, इससे उन्‍हें कोर्ट के अनुशासन, नियमों की जानकारी होगी। यह बात न्‍यायमूर्ति विष्‍णु सहाय ने यहां यूनिटी पीजी एंड लॉ कॉलेज में राष्ट्रीय मूर्टकोर्ट प्रतियोगिता का उद्घाटन करते हुए कही। प्रतिवर्ष की तरह इस वर्ष भी कॉलेज में छठा जस्टिस मुर्तजा हुसैन राष्ट्रीय मूर्टकोर्ट प्रतियोगिता का आयोजन 20 सितम्बर से 22 सितम्बर तक किया गया है।

कॉलेज के प्राचार्य की ओर से जारी विज्ञप्ति में बताया गया है कि इस मूट कोर्ट प्रतियोगिता में देश भर से लगभग 22 टीमों के 66 प्रतिभागी भाग ले रहे हैं। इनमें चाणक्य नेशनल लॉ युनिवर्सिटी पटना, जामिया मिलिया इस्लामिया युनिवर्सिटी नई दिल्ली, अलीगढ़ मुस्लिम युनिवर्सिटी, अलीगढ़, ऐमिटी युनिवर्सिटी, लॉयड लॉ कॉलेज, ग्रेटर नोएडा सहित अन्‍य टीमें भाग ले रही हैं। प्रतियोगिता के प्रथम दिन रिसर्चर टेस्ट,  ड्रा ऑफ लॉर्ड्स तथा मेमोरियल एक्सचेंज का आयोजन हुआ।

इस अवसर पर कॉलेज के चेयरमैन न्यायमूर्ति इम्तियाज़ मुर्तज़ा, वाइस चेयर परसन समीना इम्तियाज़ मुर्तज़ा,  सचिव मुर्तजा हसनैन खान, कोषाध्यक्ष नदीम मुर्तज़ा, मुख्य संयोजक समीना जावेद तथा संयोजक  असमा जावेद, शिक्षकगण, विद्यार्थी, प्रतिभागी तथा प्रशासनिक स्टॉफ आदि उपस्थित थे।