Monday , October 25 2021

केजीएमयू के मेडिकोज को मिलेगी ओपीडी में नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा

पैरामेडिकल मेधावियों को गोल्ड मेडल दिये जाने सहित कई प्रस्‍तावों को कार्यपरिषद की मंजूरी    

लखनऊ। केजीएमयू में पढ़ाई करने वाले एमबीबीएस के मेडिकोज हों या डेंटल, नर्सिंग एवं पैरामेडिकल छात्र-छात्रायें, सभी संस्थान की ओपीडी में नि:शुल्क उपचार ले सकेंगे। यह निर्णय शुक्रवार को आयोजित कार्यपरिषद की बैठक में लिया गया है , बैठक में एमएससी नर्सिंग के मेधावी स्टूडेंट्स को गोल्डमेडल प्रदान किये जाने समेत कई निर्णय लिये गये हैं, यह मेडल पद्मश्री डॉ. साव्या सांची सरकार द्वारा दिये जायेगा।

 

कुलपति की अध्यक्षता में आयोजित कार्यपरिषद की जानकारी देते हुए कुलसचिव ने बताया कि संस्थान हित में कई निर्णय लिये गये हैं और उन निर्णयों को संवधानिक मंजूरी प्रदान करने केलिए संस्थान की परिनियमावली में संशोधन भी किया गया है। उन्होंने बताया कि नर्सिंग की प्रथम व द्वितीय वर्ष की मेधावी छात्र या छात्रा को गोल्डमेडल प्रदान करने के लिए पदम्श्री साव्या सरकार के प्रस्ताव पर कार्यपरिषद से सहमति प्रदान कर दी। ज्ञात हो कि पैरामेडिकल शिक्षण, बीते कुछ वर्ष में शुरू हुआ है। इसके अलावा विभिन्न विभाग समेत पूरे संस्थान को आग की घटना से बचाने केलिए फायर सेफटी एडं सिक्योरिटी गाइडलांइस 2019 को लागू करने को हरी झंडी मिल गई है।

 

ट्रॉमा सर्जरी एवं इमरजेंसी मेडिसिन विभाग, इमरजेंसी मेडिसिन विभाग , पल्मोनरी क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग और एनेस्थीसिया आईसीयू में शिक्षकों के नये पद और पीएमआर विभाग में सीनियर रेजीडेंट्स के पद, जिन्हें प्रदेश सरकार द्वारा स्वीकृत किया गया है,सभी पदों पर नियुक्ति करने के लिए कार्यपरिषद सदस्यों ने अपनी मुहर लगा दी। इसके अलावा बैठक में बीते वर्ष की वार्षिक रिपोर्ट, लेखाजोखा का विवरण प्रस्तुत किया गया। परिषद सदस्यों ने स्वीकारोक्ति प्रदान की।