Friday , July 1 2022

दिन भर में 90 बार अपने चेहरे पर लगाने वाले हाथों को साफ रखें

-अभिवादन करने के लिए नमस्‍ते करें, शेक हैंड और हग नहीं
-कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर डीएम ने बुलायी बैठक

 

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। कोरोना वायरस के संदिग्धों के मिलने से राजधानी समेत पूरे प्रदेश में दहशत फैलने लगी है, लोगों में दहशत का आलम है यह है कि लोग बच्चों को स्कूल भेजने से परहेज करने लगे हैं। दूसरी तरफ समाज के वास्तविक भय को दूर करने के लिए जिलाधिकारी, मुख्‍य चिकित्सा अधिकारी समेत अन्य संगठनों ने कोरोना वायरस पर एलर्ट करते हुये, बचाव के मुख्य सुझावों के अनुपालन की अपील की गई है।

यह भी पढ़ें-कोरोनावायरस से बचाव के लिए ले सकते हैं यह दवा

बुधवार को जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.नरेन्द्र अग्रवाल, आईएमए लखनऊ के अध्यक्ष (2017) डॉ.पीके गुप्ता समेत कई अधिकारियों के साथ बैठक की, बैठक में कोरोना वायरस संबन्धी जागरूकता का हैंडबिल जारी करते हुये, जिलाधिकारी ने विभिन्न संगठनों के अपील करते हुए  सरकारी संस्थाओं को सार्वजनिक जगहों पर बचाव संबन्धी जागरूकता पेास्टर लगाने के निर्देश दिये हैं। आईएमए के प्रतिनिधि के रूप में आईएमए लखनऊ के अध्‍यक्ष (2017) ने जिलाधिकारी द्वारा आयोजित की गयी बैठक में हिस्‍सा लिया।

जिलाधिकारी की अपील के पश्चात आईएमए भवन में आईएमए सचिव डॉ.जेडी रावत की अध्यक्षता में आकस्मिक बैठक हुई, बैठक में बतौर पैथोलॉजिस्ट  डॉ.गुप्ता ने  कहा कि  आईएमए कोरोना वायरस से समाज को आईएमए जागरूक करेगा। उन्होंने, सचिव डॉ.जेडी रावत, एडिटर डॉ.रत्ना पाण्डेय व डॉ.सरिता सिंह के साथ आईएमए द्वारा समाज में बचाव में अपील की है कि …

 

– दिन में पांच बार, 20-20 सेकेंड तक साबुन से हाथ धोना चाहिये

– लोगों से हाथ न मिलाये,  नमस्कार करें

-छींकते समय,  मुंह पर टिश्‍यू पेपर, रूमाल रखें, अन्यथा कोहनी को मुंह के सामने कर लें।

– सर्वे के अनुसार, दिन में 90 बार व्यक्ति हाथ चेहरे पर लगाता है, जिससे संक्रमण फैलता है इसलिये हाथों की स्वच्छता आपको बचायेगी।

– कोरोना संक्रमण में सूखी खांसी, हाई फीवर और गले में खराश हो सकती हैं, ऐसा होने पर  चिकित्सक से तुरन्त मिलेंफ

-विदेश से आने वालों के साथ, निर्धारित जांचों में सहयोग करें