Wednesday , June 29 2022

54 वर्ष का हो जायेगा आईआईटीआर, जैदी व्‍याख्‍यान देंगे डॉ राकेश

14 नवम्‍बर को आयोजित किया जायेगा वार्षिक दिवस समारोह

लखनऊ। देश का प्रमुख विषविज्ञान संस्थान सीएसआईआर-भारतीय विषविज्ञान अनुसंधान संस्थान (सीएसआईआर-आईआईटीआर) लखनऊ  का  54वां वार्षिक दिवस 14 नवंबर को मनाया जाएगा। इस मौके पर वार्षिक व्याख्यान श्रृंखला में, 23वाँ प्रोफेसर एस.एच. जैदी मेमोरियल व्याख्यान सीएसआईआर-सेंटर फॉर सेलुलर एंड मॉलेक्यूलर बायोलॉजी, हैदराबाद के निदेशक डॉ. राकेश के. मिश्र द्वारा दिया जाएगा।

संस्‍थान की ओर से दी गयी जानकारी के अनुसार आईआईटीआर बहु-विषयक अनुसंधान संस्थान अपने आदर्श वाक्य “पर्यावरण एवं स्वास्थ्य की सुरक्षा तथा उद्योग की सेवा” के साथ मानव स्वास्थ्य एवं पर्यावरण संबंधी महत्वपूर्ण समस्याओं का समाधान करता है तथा विषविज्ञान के आला क्षेत्रों में अनुसंधान कार्य  करता है। वर्ष 1965  में स्थापित इस संस्थान ने मानव स्वास्थ्य एवं पर्यावरण, पारिस्थितिक तंत्र पर औद्योगिक एवं पर्यावरणीय रसायनों के प्रभाव का आकलन एवं वायु, जल तथा मृदा में प्रदूषकों का पर्यावरणीय अनुवीक्षण कार्य संबंधी महत्वपूर्ण सेवाएं प्रदान की हैं।

समारोह प्रोफेसर एस.एच. जैदी मेमोरियल व्याख्यान से प्रारंभ होगा । यह व्याख्यान संस्थान के प्रथम निदेशक के सम्मान में प्रत्येक वर्ष वार्षिक दिवस को आयोजित किया जाता है। डॉ. वी. पी. कम्बोज, अध्यक्ष, निदेशक मंडल, बीसीआईएल, नई दिल्ली एवं पूर्व निदेशक, सीएसआईआर – केंद्रीय औषधि अनुसंधान संस्थान (सीडीआरआई), लखनऊ वार्षिक दिवस समारोह की अध्यक्षता करेंगे। वार्षिक दिवस उत्सव का मुख्य आकर्षण  संस्थान के लॉन में 4:30 बजे सायंकाल वार्षिक दिवस समारोह आयोजित होगा।  भारतीय विज्ञान संस्थान(इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस), बेंगलुरु के पूर्व निदेशक प्रोफेसर पी. बलराम समारोह में वार्षिक दिवस व्याख्यान देंगे जबकि संस्‍थान के निदेशक प्रोफेसर आलोक धावन संस्थान की वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे। इस अवसर पर विभिन्न वैज्ञानिक प्रकाशनों का विमोचन भी किया जाएगा।