Saturday , July 17 2021

ग्‍लूकोमा के प्रति जागरूकता के लिए कुलपति से लेकर छात्रों तक ने किया वॉक

-केजीएमयू 7 मार्च से 13 मार्च तक मना रहा है ग्‍लूकोमा सप्‍ताह, ओपीडी में हो रही फ्री ग्‍लूकोमा जांच

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। किंग जॉर्ज चिकित्‍सा विश्‍वविद्यालय (केजीएमयू) के नेत्र विभाग द्वारा 7 मार्च से 13 मार्च ग्लूकोमा के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए ग्लूकोमा सप्ताह मनाया जा रहा है, इसी के तहत आज 10 मार्च को ग्‍लूकोमा वॉक का आयोजन किया गया। वॉक प्रात: 8 बजे प्रशासनिक भवन से शुरू होकर नेत्र विभाग पर समाप्‍त हुआ। ज्ञात हो ग्‍लूकोमा ऐसी बीमारी है जिसमें नेत्रों की रौशनी जाने का डर रहता है।

केजीएमयू के मीडिया प्रवक्‍ता डॉ सुधीर सिंह द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार ग्‍लूकोमा सप्‍ताह के दौरान विभाग द्वारा पैरामेडिकल संकाय व छात्रों, नर्सिंग संकाय व छात्रों के लिए विशेष जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। इस दौरान ओपीडी में फ्री ग्‍लूकोमा जांच की जा रही है।  

आज आयोजित हुए वॉक में कुलपति ले.ज.डॉ बिपिन पुरी, प्रति उपकुलपति प्रो विनीत शर्मा, मुख्‍य चिकित्‍सा अधीक्षक डॉ एसएन संखवार, चिकित्‍सा अधीक्षक नेत्र रोग विभाग की विभागाध्‍यक्ष प्रो अपजित कौर, डॉ एसके भास्‍कर, डॉ प्रमोद डेविड के अलावा रेजीडेंट डॉक्‍टर्स, पैरामेडिकल कर्मचारी, छात्र-छात्राओं ने भी भाग लिया।

ग्‍लूकोमा के बारे में डॉ एसके भास्‍कर ने बताया कि 40 वर्ष की उम्र के बाद प्रत्‍येक व्‍यक्ति को अपनी आंखों की जांच जरूर करानी चाहिये, इसी प्रकार अगर बच्‍चों की आंखें बड़ी दिखने लगे तो डॉक्‍टर को दिखाकर ग्‍लूकोमा की जांच करानी चाहिये।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com