Tuesday , November 29 2022

एम्‍स ॠषिकेश में ऑपरेशन के लिए लम्‍बा इंतजार होगा खत्‍म, चार नये मॉड्यूलर ओटी शुरू

निदेशक प्रो रविकांत ने कहा, संकल्पित हूं मरीजों को वर्ल्‍ड क्‍लास सुविधायें देने के लिए

 

लखनऊ। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ऋषिकेश में अब मरीजों को ऑपरेशन के लिए लम्‍बा इंतजार नहीं करना पड़ेगा। आज रविवार को संस्‍थान में पांच ऑपरेशन थियेटरों का लोकार्पण किया गया, इनमें चार अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त मॉड्यूलर इंटीग्रेटेड ऑपरेशन थिएटर तथा एक अन्‍य ओटी स्‍त्री रोग विभाग में स्‍थापित है। इनका लोकार्पण संस्थान के निदेशक प्रोफेसर रवि कांत ने किया। उन्‍होंने बाल रोग विभाग की ओपीडी में टीकाकरण केंद्र का भी लोकार्पण किया।

 

इस अवसर पर प्रो.रवि कांत ने संस्थान में मरीजों को वर्ल्‍ड क्लास स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने का संकल्प दोहराया। उन्होंने बताया कि संस्थान में मरीजों को उपयुक्त व आधुनिकतम चिकित्सा सुविधाएं मुहैया कराई जा रही हैं। उन्‍होंने बताया कि संस्थान में चिकित्सा सेवाओं के सतत विस्तारीकरण से यहां इलाज के लिए आने वाले मरीजों को लाभ मिलेगा।

निदेशक ने बताया कि अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस ऑपरेशन थिएटर से सर्जरी कराने वाले मरीजों की प्रतीक्षा सूची में कमी आएगी और उन्हें ऑपरेशन के लिए लंबा इंतजार नहीं करना पड़ेगा। प्रो. रवि कांत ने बताया कि संस्थान में बनाए गए व़र्ल्‍ड क्लास मॉड्यूलर ऑपरेशन थिएटर उत्तराखंड राज्य व समीपवर्ती और प्रदेशों में कहीं भी उपलब्ध नहीं हैं। उन्होंने बताया कि लोकार्पित किए गए टीकाकरण केंद्र में नवजात शिशुओं व अन्य बच्चों को राष्ट्रीय टीकाकरण मिशन के अंतर्गत लगने वाले सभी टीके मुफ्त लगाए जाएंगे।

उधर एम्स परिसर में गुरुद्वारा श्रीहेमकुंड साहिब की ओर से मरीजों व उनके साथ आने वाले तीमारदारों के लिए गुरु का लंगर विधिवत शुरू कर दिया गया। इस अवसर पर निदेशक एम्स प्रो. रवि कांत ने मरीजों व तीमारदारों के लिए हेमकुंड गुरुद्वारा ट्रस्ट द्वारा भोजन सेवा शुरू किए जाने की सराहना की और कहा कि इससे अस्पताल में आने वाले गरीब पृष्ठभूमि के लोगों को लाभ मिलेगा। प्रो.रवि कांत ने बताया कि आवश्यकता पड़ने पर एम्स संस्थान हेमकुंड साहिब के दर्शन को आने वाले श्रद्धालुओं को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराएगा। उन्होंने बताया कि एम्स में आने वाले मरीजों को रैन बसेरे की सुविधा की नितांत आवश्यकता है, संस्थान द्वारा रैन बसेरा का निर्माण प्रस्तावित है मगर भूमि के अभाव में ऐसा नहीं हो पा रहा है। यदि आसपास कोई संस्था इसके लिए दानस्वरूप भूमि उपलब्ध कराए तो इससे रोगियों व तीमारदारों को बड़ी राहत मिलेगी।

 

कार्यक्रम के दौरान गुरुद्वारा ट्रस्‍टी सरदार नरेंद्रजीत सिंह बिंद्रा व ऋषिकेश मेयर अनीता ममगाईं ने एम्स प्रशासन की कार्यप्रणाली की प्रशंसा की, उन्होंने कहा कि प्रो.रवि कांत के संस्थान की कमान संभालने के बाद एम्स की काफी तरक्की हुई है, मरीजों के लिए सुविधाओं के विस्तार से संस्थान लोगों की कसौटी पर खरा उतर रहा है। इस अवसर पर मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉ.ब्रह्मप्रकाश, प्रोफेसर बीना रवि, प्रो.मनोज गुप्ता, डा.अनुभा अग्रवाल, सुपरिटेंडेंट इंजीनियर शशिभाल पांडेय आदि मौजूद थे।