मेडिकल प्रोफेशन के नैतिक और व्‍यावहारिक पक्ष को बेहतर करना सिखायेगा फाउंडेशन कोर्स

लोहिया संस्‍थान में एमबीबीएस 2019 के विद्यार्थियों के लिए शुरू हुआ नया एक माह का फाउंडेशन कोर्स

लखनऊ। डॉ राम मनोहर लोहिया संस्‍थान के निदेशक डॉ एके त्रिपाठी ने एमबीबीएस के नवप्रवेशित विद्यार्थियों को सम्‍बोधित करते हुए बताया कि किस प्रकार उन्‍हें नया शुरू हुआ एक माह का फाउन्‍डेशन कोर्स उनके प्रोफेशन के नैतिक और व्‍यावहारिक पक्ष को बेहतर करने के बारे में मदद करेगा।

प्रो त्रिपाठी ने यह जानकारी एमसीआई की गाइडलाइन्‍स के अनुसार इस वर्ष से शुरू हुए एक माह के फाउन्‍डेशन कोर्स का उद्घाटन करते हुए दी। उन्‍होंने छात्रों के साथ ही अभिभावकों को भी संस्‍थान की ओर से निभाये जाने वाले दायित्‍व के प्रति आश्‍वस्‍त किया।

इस मौके पर संस्‍थान के एक्‍जीक्‍यूटिव रजिस्‍टार और एनोटमी विभाग के विभागाध्‍यक्ष प्रोफेसर (कर्नल) राजन भटनागर तथा मेडिकल एजूकेशनल यूनिट की कोऑर्डीनेटर प्रो ज्‍योत्‍सना अग्रवाल ने भी छात्र-छात्राओं को सम्‍बोधित करते हुए इस कोर्स के पाठ्यक्रम और चिकित्‍सा शिक्षा के क्षेत्र में मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा किये गये बदलावों के बारे में जानकारी दी। कार्यक्रम का संचालन बायोकेमिस्‍टी विभाग की विभागाध्‍यक्ष प्रो वंदना तिवारी ने किया। इस कार्यक्रम में एमबीबीएस 2019 बैच के छात्र-छात्राओं, उनके अभिभावक और डॉ सुब्रत चन्‍द्रा, डॉ यशोधरा प्रदीप सहित अन्‍य संकाय सदस्‍यों ने भाग लिया।