Thursday , May 12 2022

नौकरी का फर्जी विज्ञापन निकालकर बेरोजगारों को ठगा जा रहा

प्रमुख सचिव ने की फर्जी विज्ञापन की सूचना पुलिस को देने की अपील

 

लखनऊ। नौकरी की तलाश कर रहे बेरोजगारों को फर्जी विज्ञापन निकालकर ठगने का कार्य उत्‍तर प्रदेश के कई जनपदों में चल रहा है। उत्‍तर प्रदेश शासन ने इससे सावधान रहने की अपील करते हुए कहा है कि इस बारे में अपने जिले के वरिष्‍ठ पुलिस अधीक्षक या पुलिस अधीक्षक को दें।

 

 

सूचना विभाग द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार ऐसे विज्ञापन की जानकारी को लेकर उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य प्रशांत त्रिवेदी ने विभिन्न जनपदों से प्राप्त हो रही फर्जी भर्ती विज्ञापन संबंधी सूचनाओं का संज्ञान लेते हुए आमजन से अपील की है कि प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अंतर्गत किसी भी भर्ती विज्ञापन अथवा सोशल मीडिया पर प्रसारित सूचना के बारे में सर्वप्रथम जनपद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक या पुलिस अधीक्षक को जानकारी दें।

 

 

श्री त्रिवेदी ने कहा कि कई जनपदों से इस प्रकार की सूचना प्राप्त हो रही है कि कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा सोशल मीडिया तथा अन्य माध्यमों से प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अंतर्गत भर्ती का झांसा देकर भोले-भाले युवाओं को भ्रमित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत या राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन में भर्ती से सम्बन्धित विज्ञापन केवल राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन तथा साचीज की अधिकृत वेबसाइट पर ही प्रकाशित किये जाते हैं। प्रमुख सचिव स्वास्थ्य ने कहा कि इसके लिए प्रत्येक व्यक्ति को सजग रहने की आवश्यकता है, ताकि इस प्रकार के असामाजिक तत्वों व ठगों से बचा जा सके।