Thursday , December 9 2021

आयुष फार्मासिस्‍टों व नर्सों ने मांगों को लेकर किया वृक्षासन मुद्रा में ‘विनती योग’

-पर्यावरण दिवस पर लगाये थे पेड़, अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस पर खुद बन गये पेड़

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। कोविड-19 को देखते हुए आयुष फार्मासिस्ट एवं नर्सेज़ के राजकीय एवं संविदा समस्त रिक्त पदों पर अविलम्ब विभागीय नियमों के तहत भर्ती, 1678MO-CH के सापेक्ष 1678 आयुष फार्मासिस्टों के पदों का सृजन जिससे MO-CH को प्राप्त आयुष औषधि का भण्डारण एवं वितरण उचित ढंग से हो सके, NHM में कार्यरत आयुष फार्मासिस्टों की वेतन विसंगति दूर करते हुए एलोपैथ फार्मासिस्ट के समकक्ष मानदेय, प्रदेश भर में आयुष विंग्‍स में पंचकर्म हिजामा शुरू करते हुए आयुष नर्सों की नियुक्ति  तथा आयुर्वेद यूनानी औषधियों की गुणवत्ता के लिए प्राइवेट सेक्टर में मेडिकल स्टोर एवं औषधि निर्माणशालाओं में फार्मासिस्ट की अनिवार्यता आदि मांगों को लेकर आयुष फार्मासिस्ट संघ उ0प्र0 के प्रदेशव्यापी आह्वान पर अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर सामूहिक उपवास रखकर वृक्षासन की मुद्रा में एक पैर पर खड़े होकर प्रदेश भर के हज़ारों आयुष फार्मासिस्ट एवं नर्सेज़ तथा राजकीय आयुर्वेदिक यूनानी फार्मासिस्टों ने प्रदेश के मुख्यमंत्री से मांगों के शीघ्र समाधान की विनती की। ज्ञात हो विश्‍व पर्यावरण दिवस पर भी संघ द्वारा वृक्षारोपण कर अपनी मांगों को पूरा करने की विनती की गयी थी।

राजकीय आयुर्वेदिक यूनानी फार्मासिस्ट संघ के प्रदेश अध्यक्ष विद्द्याधर पाठक,जी आयुष फार्मासिस्ट संघ के प्रदेश अध्यक्ष अम्मार जाफ़री एवं महामंत्री देवेन्द्र यादव प्रदेश उपाध्यक्ष क्रम प्रवीण चौबे, राजेश सक्सेना एवं सत्यप्रकाश रॉय, नीरज पाठक, शिवम कटियार, राजकुमार, दिनेश कुमार, विनोद चौहान, योगेश शर्मा, कृष्ण कुमार, रामसागर मौर्य, राहुल रावत, नर्सेज़ उषा, सुभी, सोनी, प्रीति रस्तोगी, शालिनी, संजू यादव आदि पदाधिकारियों ने भी आयुष फार्मासिस्ट एवं नर्सेज़ की उक्त मांगों के शीघ्र निराकरण करवाने के लिए मुख्यमंत्री से विनती की।

अन्तराष्ट्रीय योग दिवस पर लिया संकल्प

आयुष फार्मासिस्ट संघ के समर्थन में एकदिवसीय सामूहिक उपवास रखते हुए आयुष चिकित्सक डॉ धन्वन्तरि त्यागी ने कहा..युज्यते इति योग: ,योगश्चित्तवृत्ति निरोध:

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर संकल्प लिया गया कि अष्टांग योग का सामान्य ज्ञान और किसी एक अंग का विशेष ज्ञान अवश्य करेंगे।