अमेरिकी यूनिवर्सिटी को पसंद आयी केजीएमयू की संक्रामक रोगों के इलाज की ट्रेनिंग

इस साल भी आयोजित हुआ ट्रेनिंग प्रोग्राम, केजीएमयू में खुलेगा विशेष केंद्र

लखनऊ। किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 एमएलबी भट्ट ने टेक्‍सास टेक्निकल यूनिवर्सिटी हेल्‍थ साइंसेज यूएसए  से आए चिकित्सकों के एक सात सदस्यीय दल को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया। चिकित्सकों का यह दल केजीएमयू के संक्रामक रोग यूनिट, डिपार्टमेंट ऑफ मेडिसिन द्वारा संक्रमण रोगों से बचाव एवं उसके निदान पर आयोजित कार्यशाला में प्रतिभाग करने आए थे। यह कार्यशाला 7 अप्रैल से 16 अप्रैल तक आयोजित की गई थी। इस कार्यशाला में प्रतिभाग करने वाले दल का नेतृत्व टेक्‍सास टेक्निकल यूनिवर्सिटी हेल्‍थ साइंसेज यूएसए  के संक्रमण रोग विशेषज्ञ डॉ फातिमा लेवेंट और डॉ मरियम लैसे ने किया।

 

इस बात की जानकारी देते हुए केजीएमयू के संक्रामक रोग यूनिट, डिपार्टमेंट ऑफ मेडिसिन के डॉ डी. हिमांशु ने बताया कि इस प्रकार की कार्यशाला एक वर्ष पूर्व भी आयोजित की गई थी, जिसकी सफलता और मरीजों के हित में आए परिणाम के उपरांत  टेक्‍सास टेक्निकल यूनिवर्सिटी हेल्‍थ साइंसेज यूएसए और किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय ने यह निर्णय किया कि इस प्रकार की कार्यशाला प्रत्येक वर्ष आयोजित की जानी चाहिए।

 

डॉ डी. हिमांशु ने बताया कि भविष्य में दोनों संस्थान द्वारा ट्रॉपिकल इन्‍फेक्‍शस डिजीज (Tropical Infectious disease)  का केन्द्र केजीएमयू में बनाया जाना प्रस्तावित है। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि कार्यशाला में मरीजों के परीक्षण के साथ ही उनकी बीमारी एवं उसके निदान को लेकर चर्चा की गई। इस अवसर पर Anti Microbial Stewardship Program  की ट्रेनिंग भी कराई गई, जिसमें AntiBiotics  के कम से कम इस्तेमाल से मरीजों का उपचार किया जा सके।