Monday , October 25 2021

सराहनीय सोच : ट्रॉमा सेंटर में अतिरिक्त, ओटी चलाकर निपटायीं पेंडिंग सर्जरी

24 घंटे ओटी चलने के बाद भी 10 से 12 सर्जरी पेंडिंग चल रही थीं  

लखनऊ। समाज में फैली नकारात्‍मकता के वातावरण के बीच पॉजिटिव एनर्जी भी बहुत जरूरी है। इस पॉजिटिव एनर्जी को फैलाने वाले लोग नकारात्‍मकता से प्रभावित हुए बिना अपना कार्य करते रहते हैं। किंग जॉर्ज चिकित्‍सा विश्‍व विद्यालय के ट्रॉमा सेंटर में सर्जरी विभाग और एनेस्‍थीसिया विभाग ने मरीजों की सर्जरी की पैन्‍डेन्‍सी शुक्रवार को अतिरिक्‍त ऑपरेशन थियेटर में सर्जरी करके समाप्‍त की।

 

विभागीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ट्रॉमा सेंटर में रोजाना करीब 10 से 12 मरीज ऐसे आते हैं जिनकी तुरंत सर्जरी आवश्‍यक होती है लेकिन 24 घंटे ओटी चलाने के बावजूद सभी जरूरतमंद मरीजों की सर्जरी नहीं हो पा रही थी, और 10 से 12 मरीजों की सर्जरी बाकी रह जाती थीं।

 

इन बकाया मरीजों की सर्जरी को करने के लिए सर्जरी और एनेस्‍थीसिया विभाग के विभागाध्‍यक्षों डॉ अनिता मलिक व डॉ एए सोनकर, डॉ जीपी सिंह ने अतिरिक्‍त प्रयास करने का निर्णय लिया। इसके तहत शुक्रवार को आउट ऑफ टर्न जाकर सुबह 7 बजे से एक अतिरिक्‍त ओटी चलाकर इन बकाया सर्जरी को पूरा किया। इन सर्जरी में असिस्‍टेंट प्रोफेसर डॉ अक्षय, डॉ मनीष, सीनियर रेजीडेंट डॉ प्रणव, डॉ नील कमल, जूनियर रेजीडेंट डॉ प्रसून, डॉ धीरेन्‍द्र, डॉ हर्षुल, डॉ दुर्गा व डॉ अंकिता गौरव शामिल रहे।