Saturday , November 26 2022

यानी 1 जून से अब 55 नहीं 61 जिलों में मिलेगी आंशिक कर्फ्यू में 12 घंटे की छूट!

-प्रदेश में सर्वाधिक 2552 सक्रिय केस मेरठ में, लखनऊ 2280 के साथ दूसरे नम्‍बर पर

-कर्फ्यू में छूट वाले जिलों में बरतनी होगी सतर्कता, वरना वापस ले ली जायेगी छूट  

-लखनऊ में लम्‍बे अंतराल के बाद नये केसेज की संख्‍या 100 से नीचे आयी

file photo

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। कोविड-19 की दूसरी लहर में बुरी तरह से हिचकोले खाने के बाद स्थिति सुधरने पर कल 1 जून से उत्तर प्रदेश में आंशिक कर्फ्यू में ढील देने का सिलसिला शुरू हो रहा है। अच्‍छी बात यह है कि कर्फ्यू में ढील दिए जाने की गाइडलाइंस शासन द्वारा तय जरूर की गयी हैं लेकिन कर्फ्यू में ढील लागू करवाने की स्थितियां पूरी तरह से जनपदों के हाथ में छोड़ दी हैं। आज की रिपोर्ट पर अगर नजर डालें तो सरकार द्वारा निर्धारित पैमाने में प्रदेश के 61 जिले ऐसे हैं जहां आंशिक कर्फ्यू में ढील दी जा सकती है, हालांकि यह संख्‍या रविवार को 55 थी लेकिल 6 और जिलों में सक्रिय केस 600 से कम हो गये हैं।

गाइडलाइंस के अनुसार जिन जनपदों में कुल सक्रिय के केसेज की संख्या 600 तक है वहां प्रातः 7 से सायं 7 बजे तक कर्फ्यू में ढील दी जानी है, यह ढील अभी सप्ताह में 5 दिन सोमवार से शुक्रवार तक दी जानी है ऐसे में आज 31 मई को जारी 24 घंटों की रिपोर्ट के अनुसार प्रदेश के 61 जिले ऐसे हैं जहां सक्रिय केसों की संख्या 600 से कम है जबकि 14 जिले ऐसे हैं जहां वर्तमान में कुल सक्रिय केसों की संख्या 600 से ज्यादा है।

आज 31 मई की रिपोर्ट के अनुसार जिन 14 जिलों को अभी कर्फ्यू में छूट का लाभ नहीं मिलेगा उनमें सर्वाधिक सक्रिय केस वाले मेरठ जनपद में 2552, जबकि दूसरे नंबर पर राजधानी लखनऊ में 2280 सक्रिय केस हैं। इसके अतिरिक्त सहारनपुर में 2043, वाराणसी में 1943, गौतम बुद्ध नगर में 1073, गोरखपुर में 1539, गाजियाबाद में 1688, बरेली में 1529, झांसी में 830, मुजफ्फरनगर में 1504, जौनपुर में 613, लखीमपुर में 703, बुलंदशहर में 998 तथा गाजीपुर में 601 सक्रिय केस हैं।

सबसे बड़ी चुनौती कल से कर्फ्यू में ढील दिये जाने वाले जिलों में होगी कि वहां नियमों का पूरी तरह पालन किया जाये और कराया जाये, क्‍योंकि अगर संक्रमण बढ़ा और सक्रिय केस 600 से ज्‍यादा हुए तो वहां से कर्फ्यू में छूट वापस ले ली जायेगी।

एक अच्‍छी खबर यह भी है कि राजधानी लखनऊ में बीते 24 घंटों में 84 केस आये हैं और 5 लोगों की मौत हुई है। लखनऊ में लम्‍बे अंतराल के बाद नये केस का आंकड़ा 100 से नीचे आया है। पूरे प्रदेश में इस दौरान 1497 नये केस मिले हैं जबकि 151 लोगों की दुखद मौत हुई है।